Kalyug Ka Dharm Gurbani Quote Wallpaper Download

Gurbani Quote Kaljug Ka Dharm Kaho Tum Bhai
Wallpaper Type Gurbani Quote Wallpaper
File Format PNG
Size 893KB
Resolution 1920×1280
Upload Date June 27, 2021
Last Modified June 27, 2021
Baani Creator Guru Ramdas Ji
Ang 668
Content Ik Onkar, Punjabi, English

Kalyug Ka Dharm HD Wallpaper

ਧਨਾਸਰੀ ਮਹਲਾ ੪ ॥
धनासरी महला ४ ॥

ਕਲਿਜੁਗ ਕਾ ਧਰਮੁ (Kalyug) ਕਹਹੁ ਤੁਮ ਭਾਈ ਕਿਵ ਛੂਟਹ ਹਮ ਛੁਟਕਾਕੀ ॥
हे भाई ! तुम मुझे कलियुग का धर्म बताओ, मैं माया के बन्धनों से मुक्त होने का इच्छुक हूँ, फिर मैं कैसे छूट सकता हूँ?

ਹਰਿ ਹਰਿ ਜਪੁ ਬੇੜੀ ਹਰਿ ਤੁਲਹਾ ਹਰਿ ਜਪਿਓ ਤਰੈ ਤਰਾਕੀ ॥੧॥
हरि का जाप नाव है और हरि-नाम ही बेड़ा है; जिसने भी हरि का जाप किया है, वह तैराक बनकर भवसागर में से पार हो गया है॥ १॥

ਹਰਿ ਜੀ ਲਾਜ ਰਖਹੁ ਹਰਿ ਜਨ ਕੀ ॥
हे परमेश्वर ! अपने दास की लाज रखो;

ਹਰਿ ਹਰਿ ਜਪਨੁ ਜਪਾਵਹੁ ਅਪਨਾ ਹਮ ਮਾਗੀ ਭਗਤਿ ਇਕਾਕੀ ॥ ਰਹਾਉ ॥
मुझ से अपने नाम का जाप करवाओ। मैं तो तुझसे एक तेरी भक्ति की कामना ही करता हूँ॥ रहाउ॥

Download Now

Reviews

Average rating: 5.00 out of 5 stars
1 review
5 stars
1
4 stars
3 stars
2 stars
1 star
  • Thank you

    Thank you for sharing.

    29 of 59 people found this review helpful.

    Help other customers find the most helpful reviews

    Did you find this review helpful? Yes No

  • Write a Review

    Relevant Entries

    Next Post

    Today's Hukamnama

    More Downloads

    Editor's Pick